Friday, January 20, 2012

.....'जान'.............

जब -जब मन तरसता सुनने को तुम्हारी आवाज़ ,
बंद कर पलकों के दरिन्चो करती हूँ प्रयास ,
कोशिश करती हूँ बार - बार ,
सुनती हूँ तुम्हे अपने ही आप ,
तुम्हारा, वो कहना.. 'जान ',
जैसे वीणा का कोई मद्धम राग ,
घुल जता है संगीत मेरी नस नस में
और बहने लगती है खुशबू पोर- पोर में ....
जैसे उतरी हो कुआंरी- कच्ची धूप ,
मन के सर्द - सूने आंगन में ,
जिस्म में फैल जाती एक गुनगुनाहट ,
तुम्हारे इश्क की .........
पल- भर को रुक जाती है धडकन ,
लुप्त हो जाती है चेतना ,
थम जाता है सारा ब्रह्मांड ,
अस्यंमित हो जाती है साँस,
बस तुम्हारे कहने भर से
.....'जान'..............

27 comments:

  1. bahut sunder bhav................

    ReplyDelete
  2. अच्छी प्रस्तुति,बहुत सुंदर रचना,बेहतरीन पोस्ट...वाह रे मंहगाई...

    ReplyDelete
  3. आह! भावपूर्ण प्रस्तुति.
    पढकर मन मग्न हो गया है.

    ReplyDelete
  4. "जैसे उतरी हो कुआंरी- कच्ची धूप ,
    मन के सर्द - सूने आंगन में ,
    जिस्म में फैल जाती एक गुनगुनाहट ,
    तुम्हारे इश्क की ........."
    wah adhbhut Poonamji..
    Radically Your's

    ReplyDelete
  5. jad ho gayaa padh kar yah kavitaa
    isse jyaadaa kuchh nahee likh paa rahaa hoon
    behatareen

    ReplyDelete
  6. जैसे वीणा का कोई मद्धम राग ,
    घुल जता है संगीत मेरी नस नस में
    और बहने लगती है खुशबू पोर- पोर में ....
    जैसे उतरी हो कुआंरी- कच्ची धूप ,
    मन के सर्द - सूने आंगन में...

    बहुत कोमल एहसासपूर्ण रचना !
    आभार !

    ReplyDelete
  7. दरीचों को होना चाहिए था.....बहुत अच्छा अहसास होता है जब कोई अपनी जान से भी ज्यादा अपनी 'जान' बन जाता है.......सुन्दर पोस्ट|

    ReplyDelete
  8. वाह .....बहुत खूब
    खूबसूरत भाव

    ReplyDelete
  9. बहुत सुंदर पंक्तियाँ है ।

    ReplyDelete
  10. बहुत ही खुबसूरत
    और कोमल भावो की अभिवयक्ति.....

    ReplyDelete
  11. समय मिलने पर मेरे ब्लॉग पर भी आईयेगा पूनम जी.

    ReplyDelete
  12. एक शब्द और श्रृष्टि का ठहर जाना फिर गतिमान हो जाना ...
    लाजवाब कल्पना है ...

    ReplyDelete
  13. Welcome to www.funandlearns.com

    You are welcome to Fun and Learns Blog Aggregator. It is the fastest and latest way to Ping your blog, site or RSS Feed and gain traffic and exposure in real-time. It is a network of world's best blogs and bloggers. We request you please register here and submit your precious blog in this Blog Aggregator.

    Add your blog now!

    Thank you
    Fun and Learns Team
    www.funandlearns.com

    ReplyDelete